Tuesday, August 3, 2010

आज के रियलिटी शो की रियलिटी .....>>> संजय कुमार

जब से मनोरंजन के सबसे बड़े साधन टेलीविजन ने हमारे घरों पर कब्ज़ा किया है , तब से इस टेलीविजन ने हमें बहुत कुछ अच्छा-बुरा दिया है ! फिर चाहे दुनियाभर की जानकारी हो , हर तरह का मनोरंजन हो , ज्ञानवर्धक कार्यक्रम हों या बच्चों की प्रतिभा निखारने का सुनहरा मंच, सब कुछ ऐसा, जो अपने आप में एक अलग पहचान है -- आज के इस टेलीविजन की , जो आगे भी कई तरह से आम इन्सान को लुभाएगी ! आज यहाँ बात करेंगे टेलीविजन के सबसे प्रचलित कार्यक्रम " रियलिटी शो " की जिसका मुख्य उद्देश्य है ---आम जनता को वास्तविक जीवन के करीब ले जाना ! लेकिन हकीकत कुछ और है इन कार्यक्रमों की --- ज्यादा से ज्यादा अपनी ओर आकर्षित करना , टेलीविजन चैनलों की TRP बढ़ाना और अपने कार्यक्रमों से बांधे रखना पिछले तीन चार सालों में इस टेलीविजन पर कई ऐसे कार्यक्रम आये जो जनता के सामने "रियलिटी" का नाम देकर परोसे गए ! " राखी का स्वयंवर " या " राहुल दुल्हनिया ले जायेगा " या फिर " देशी गर्ल " और इस तरह के कई रियलिटी शो ! जब तक यह शो टेलीविजन पर आते हैं, और जब इनका समापन होता है तो एक ऐसा माहोल बना देते हैं कि आज तक कि सबसे बड़ी सच्चाई सबसे बड़ा समारोह आज हो रहा है ! जहाँ इन शो के दौरान राखी सावंत ने कनाडाई मूल के व्यक्ति से शादी रचाई वहीँ राहुल महाजन ने कोलकाता की डिम्पी गांगुली से शादी रचाई ! जब यह रियल्टी शो समाप्त हो जाते हैं, तो इनके समाप्त होते ही इन रियल्टी शो की रियलिटी भी ख़त्म हो जाती है ! और कुछ दिनों बाद खबर आती है -- राखी ने अभी तक शादी नहीं की, वह शादी पर विचार करेगी वहीँ राहुल ने शादी तो करली (दूसरी ) लेकिन उसकी यह शादी सिर्फ एक महीने तक ठीक-ठाक चली ! और उसकी शादी अब मारपीट तक पहुँच गयी है ! यही है इन रियलिटी शो का सच ! एक रियल्टी शो पिछले दिनों पूरे हिन्दुस्तान और पाकिस्तान ने देखा और वह था सानिया मिर्ज़ा और शोएब मलिक का निकाह जिसे हम सब ने किसी रियलिटी शो की तरह मनोरंजन किया ! खुदा ना करे की उनकी निजी जिंदगी में किसी तरह का कोई भूचाल आये ! नहीं तो आज होने वाले हर रियलिटी शो का सच सिर्फ शो बनकर ही न रह जाए ......

आज टेलीविजन पर झूंठ को सच बनाकर परोसा जा रहा है... जो आम इन्सान की जिंदगी और उसकी वास्तविकता से कोसों दूर होता है ! आज जितने भी सीरियल टेलीविजन पर दिखाए जाते हैं उनमे से कुछ को छोड़ दिया जाय तो बाकि सब के सब वास्तविकता से दूर सिर्फ कोरी कल्पना को सच का चोला पहनाकर अपना गलत प्रभाव आम जनता के बीच में छोड़ रहे हैं !

काश आज के रियलिटी शो...... शो ... ना होकर रियल होने लगे तो कितना अच्छा हो

धन्यवाद

9 comments:

  1. आज टेलीविजन पर झूंठ को सच बनाकर परोसा जा रहा है

    100% KATU KATYA KAHA HAI SANJAY BHAI JI AAPNE

    ReplyDelete
  2. तकनिकी सुविधा का दुरूपयोग न करके सदुपयोग किया जाए तो बदलाव लाया जा सकता है...............

    ReplyDelete
  3. बहुत पहले एक ऐड आता था --पैसा फैंको , कुछ भी बोल डालते हैं ।
    आज यही हकीकत बन गई है ।
    सारे रियल्टी शो मोस्ट अनरियल होते हैं ।

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छी प्रस्तुति।
    राजभाषा हिन्दी के प्रचार-प्रसार में आपका योगदान सराहनीय है।

    ReplyDelete
  5. संजय जी रियलिटी और रीलटी में ज्यादा फर्क नहीं इन लोगों की..

    ReplyDelete
  6. इसलिए इनको रिअलिटी शो कहाँ जाता है. इनमे शो खत्म होने के बाद रिअलिटी शुरू होती है.

    ReplyDelete
  7. आज टेलीविजन पर झूंठ को सच बनाकर परोसा जा रहा है...

    पर भाई इसे सच मानता कौन है ?

    ReplyDelete
  8. आप सभी का धन्यवाद,

    काजल कुमारजी आज भी इस देश में रस्सी को सांप समझाने बालों की कमी नहीं है

    ReplyDelete
  9. सही फरमाया है यही है असलियत

    ReplyDelete