Sunday, May 12, 2013

तलाश जारी है ...( मदर्स - डे Mother's Day ) ........>>> गार्गी की कलम से

आपकी हर वेदना
मेरी संवेदना हो गई 
आपकी जिंदगी 
मेरे लिए सबक हो गई 
कौन कहता है कि ,
" खुशियाँ "
आती जाती रहती हैं 
आपके करीब थे जब तक 
सुकून ना खोया था 
दूर होकर आपसे 
खुशियाँ भी बिना  सुकून हो गई ,
पा कर भी जिंदगी का 
हर एक सुख 
लगता है कभी - कभी 
जैसे सब कुछ खो दिया है !
मेरे जीवन में 
निःस्वार्थ प्रेम और 
विश्वास की परिभाषा 
आप हो मेरे लिए 
आपको हर किसी में 
खोजती हूँ 
तलाश जारी है अभी , ............ " माँ "

( प्रिये पत्नी गार्गी की कलम से ) 

धन्यवाद   

13 comments:

  1. बहुत बढ़िया लिखा है आपने मातृ दिवस की शुभकामनाएं!
    डैश बोर्ड पर पाता हूँ आपकी रचना, अनुशरण कर ब्लॉग को
    अनुशरण कर मेरे ब्लॉग को अनुभव करे मेरी अनुभूति को
    latest post हे ! भारत के मातायों
    latest postअनुभूति : क्षणिकाएं

    ReplyDelete
  2. ब्लॉग बुलेटिन के माँ दिवस विशेषांक माँ संवेदना है - वन्दे-मातरम् - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  3. बहुत सुन्दर रचना ...मातृत्व दिवस की बधाई 

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर रचना, शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर रचना माँ दिवस कि बधाई

    ReplyDelete
  6. bahut sunder rachna .................shubhkaamnaaye..

    plz visit &follow
    ''anandkriti''
    http://anandkriti007.blogspot.com

    ReplyDelete
  7. Pretty! This has been an extremely wonderful post.
    Thank you for supplying these details.

    Also visit my web-site Louis Vuitton Outlet

    ReplyDelete
  8. माँ जीवन का सृजन है
    बहुत सुंदर रचना
    बधाई

    आग्रह है पढ़ें "अम्मा" और मेरे ब्लॉग का अनुसरण करें
    http://jyoti-khare.blogspot.in

    ReplyDelete
  9. माँ की तुलना वसुन्धरा से की गयी है. माँ तुझे प्रणाम .

    ReplyDelete
  10. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  11. माता और मातृभूमि स्वर्ग से भी बढ़कर है !!

    ReplyDelete
  12. एक अनुपम कृति.. ..देर से आने के लिए माफी....

    ReplyDelete